Arun Kumar Sandey

spot_img

तहसील में अव्यवस्थाओं के साथ शासन के आदेश का पालन हुआ?

spot_img
Must Read

शासन का आदेश प्रति शुक्रवार सभी पटवारी,आर आई, तहसील शाखा में उपस्थित रहेंगे।

- Advertisement -

छोटे से हाल में 28 पटवारी,4 आरआई ,अति.तहसीलदार,तहसीलदार और एसडीएम ।

बिलासपुर, 19 जनवरी 2023 ( बोल छत्तीसगढ़ ) (गोविन्द शर्मा की रिपोर्ट) शासन का आदेश नही फतवा जैसा प्रतीत हो रहा है शासन का आदेश ऊपर बैठे उच्च अधिकारियों का जमीनी हकीकत के बैगर जारी करना जैसा पूर्व की सरकार में होता रहा है वैसा ही आदेश दिखाई दे रहा है।
जी हां हम बात कर रहे हैं अभी विगत दिनों शासन स्तर पर राजस्व अधिकारियों ,पटवारियों, आर आई को लेकर आया जिसमे कहा गया की प्रति शुक्रवार राजस्व पटवारी, आर आई मुख्यालय में रहेंगे जिससे आवेदक को उनसे मिलने कार्य को लेकर कोई परेशानी नहीं हो ।शासन में बैठे उच्चाधिकारियों ,मंत्रियों की सोच तो अच्छी हैं लेकिन इसमें कमिया बहुत है इसमें अब पटवारी बिना बस्ता के किस प्रकार की आवेदक को मदद कर सकता है या कोई केस हैं उस पर उसी दिन सभी को सुना ही नही जा सकता है क्योंकि एक तहसील दार एवम अति तहसीलदार के पास कई हल्का का कार्य या केस रहता है वो एक दिन में ये सब नही हो सकता आवेदक को दूसरे हफ्ते का शुक्रवार तक इंतजार करना पड़ेगा और पेशी जो अलग से चल रही उसमे अलग से खड़ा होना पड़ेगा कुल मिलाकर प्रदेश शासन ने बिना प्लानिग के ये आदेश जारी किया ऐसा लग रहा हैं।

पूर्व का एक आदेश अधिकारियों,कर्मचारियों को जिसमे पटवारी भी शामिल उन्हे सोमवार को अपने आफिस में रहना अनिवार्य है

पहला शुक्रवार अव्यवस्था के साथ :-

पूरे प्रदेश में पहले से एक आदेश हैं वो आदेश सभी विभाग के अधिकारी,कर्मचारियों केलिए है जिसमे सभी को सोमवार को अपने आफिस या कार्यालय में सोमबर्बके दिन रहना अनिवार्य हैं और हर सोमवार को आवेदक,प्रार्थी या अन्य कार्य को सुनना ,समस्या का हाल करना आदि कार्य करना होता है उसके बाद अभी जो आदेश आया उसमे शुक्रवार को तहसील मुख्यालय में पटवारी आर आई को रहना अनिवार्य हैं अब सप्ताह में बच जाते हैं तीन दिन जिसे फील्ड में वर्क करना हैं और आफिस वर्क भी साथ साथ करना हैं।

28 पटवारी,4 आर आई,4अति.तहसीलदार,और तहसीलदार के साथ एस डी एम को बैठने तक व्यवस्था नहीं इसके अलावा आवेदक या प्रार्थी को पहले शुक्रवार को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा जिसमे से कई पटवारी की ड्यूटी निर्वाचन में लगी होने के कारण दिखाई नही दिए,छोटे से हाल में सभी से मिलने की व्यवस्था की गई जिसमे पटवारी ठीक से नहीं बैठ पा रहे थे तो आम जनता को केसे राहत मिल पाती आवेदक अमजनता को इस शुक्रवार काफी दिककतो का सामना करना पड़ा अब आने वाले शुक्रवार को देखना होगा कि यही व्यवस्था रहेगी या व्यवस्था सुधारी जायेगी।

Latest News

शैक्षणिक भ्रमण के माध्यम से स्कूली विद्यार्थी संयंत्र एवं खदानों का कर रहे अवलोकन

कोरबा 21 मई 2024 ( बोल छत्तीसगढ़ ) विद्यार्थियों के ज्ञान में वृद्धि तथा देश के विकास में योगदान...

More Articles Like This